शररीर मे हाथ फेरते ही सभी बीमारिया हो जाती है दूर

चायल कौशांबी: सरायअकिल थाना क्षेत्र के बेरूई गांव के पास सरैया गांव में जन्मा एक मासूम बालक जो 6 वर्ष की उम्र में उसे ऐसी ईश्वरी आशीर्वाद मिला कि सभी बीमारियो रोगों से ग्रसित रोगियों के सिर में हाथ रखते ही रोगी के रोग दूर हो जाते हैं।

मासूम बालक के इस चमत्कार को देख इलाके ही नहीं बल्कि दूरदराज के तमाम रोगी उस बालक के पास पहुंचकर आशीर्वाद प्राप्त करने में लग गए हैं । हालांकि मामले में कितनी सच्चाई है इसकी जानकारी जब बालक के पास पहुंचे तमाम रोगियों से बात की गई तो उन्होंने कहा कि बालक के हाथ में वाकई चमत्कार है। मंझनपुर तहसील क्षेत्र के सरैया गांव निवासी गोलू पुत्र राजू सरोज उम्र 6 वर्ष गोलू का ननिहाल दरहा गांव है , गोलू के हाथ सिर पर रखते ही रोगी रोग से मुक्त हो जाता है ।

रंजीत कुमार गाँव बरई इनका कहना है कि मेरे शरीर मे तीन साल से हमेशा दर्द रहता था काफी दवा कराया ठीक नही हुआ बाबा गोलू के हाथ सिर पर रखते ही ठीक हो गया ।इसी तरह चम्पी देवी गांव लोधउर इनका कहना कि मेरा शरीर मे हाथी पाव की बीमारी थी मेरा शरीर फूली थी दोनो पैर से दबाने पर पानी निकालता था डाक्टरो ने जवाब दे दिया था चलने के लिए असमर्थ थी दो चार कदम चलती थी बैठ जाती थी जब से बाबा गोलू मेरे सर पे हाथ रख दिया मै ठीक हो गयी अब तीन चार किलोमीटर पैदल चलती हूँ ।दरहा गाँव के आशा देवी का कहना है कि दो साल से बीमार थी इलाज कराने के लिये उसके पास पैसा नही था बाबा गोलू के पास गयी पैर पकडकर रोने लगी बाबा गोलू ने सिर पर हाथ रखकर कहा घर जाओ आशा देवी उठी और चलने लगी घर वाले देखकर *खुशी हो गये आशा देवी को चार पाँच लोग चार पहिया वाहन मे लाये थे । बाबा गोलू के दर्शन के लिए हजारो की तदाद मे लोग पहुँच रहे है ।